आपका अप्लाइन ही आपका दुश्मन है – डायरेक्ट सेल्लिंग

1
1204
Upline is biggest enemy in network marketing mlm
Upline is biggest enemy in network marketing mlm

डायरेक्ट सेल्लिंग (Direct Selling) में अप्लाइन (Sponsor Upline) का बहुत अहम रोल है आपको यही व्यक्ति इस डायरेक्ट सेल्लिंग व्यापार (mlm business) में चलना सिखाता है फिर दौड़ना सिखाता और और जब आप भागने लगते हो तो यही वो व्यक्ति है जो आपकी अड़ंगी लगा कर गिरने का काम भी करता है

यह वो कड़वा सच है जिससे बताने लिखने या छापने की कभी किसी ने नही सोची पर हवा के विपरीत बह कर भी नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) की इस सच्चाई को सबके सामने लाना बेहद जरूरी है ताकि नई आने वाली पीढ़ी वो गलतिया न करे जो मैंने अपने डायरेक्ट सेल्लिंग कॅरियर में करी |

डायरेक्ट सेल्लिंग (Direct Selling Business) में कहा तक अप्लाइन का साथ चाहिए और कहा आप उसको सेवा निवर्त करके अपना रास्ता खुद बनाये यह जानना अत्यंत महत्वपूर्ण है| अपलाइन की जरूरत आपको नेटवर्क आप के शुरुआती दौर के लिए बहुत ही जरूरी है जहां पर आप कंपनी के प्रोडक्ट की बारीकियां, उनको बेचे जाने की कला, डेमोंस्ट्रेशन वैल्यू और साथ ही साथ कंपनी के पूरे सिस्टम को समझने के लिए अप्लाइन एक बहुत ही इंपॉर्टेंट रोल प्ले करता है|

चाहे आप कितने भी अच्छे मल्टी लेवल मार्केटिंग (Multi Level Marketing) के एक्सपर्ट हो और आप सालों इस बिजनेस को दे चुके हो उसके बावजूद भी अगर आप किसी नई कंपनी के अंदर तो उसके सिस्टम्स को समझना बहुत ही जरूरी होता है क्योंकि हर कंपनी का काम करने का तरीका दूसरी कंपनी से अलग होता है और वही काम कैसे सही ढंग से किया जा सकता है ऑफलाइन ही आपको समझा सकता है तो इसलिए शुरुआती दौर के अंदर में अपने अपलाइन से पूरे सिस्टम को समझिए कैसे कंपनी से प्रोडक्ट मंगाया जाता है कंपनी में पेमेंट कैसे की जाती है कंपनी में किस अधिकारी से बात करनी है उसके पास क्या चीज का समाधान है और कंपनी में किस स्तर तक आपको जानकारियां बढ़ानी है ताकि आप अपने नीचे जुड़े लोगों को अच्छे से अच्छी सेवाएं दे सकें आगे इस सिस्टम को बढ़ा सकें|

स्पांसर (Sponsor) से जानने योग्य बातें में सबसे इंपोर्टेंट है के बारे में सही जानकारी और उनको बेचने के सहित क्योंकि जो अपलाइन इस बिजनेस के अंदर में आपको लेकर आया है उसके पास के सही रास्ते हंसते हैं जिनके जरिए इस को आप तक भेजा गया अब आप कौन रास्तों को और इंवेंट करके नया भी बना सकते हैं जो आपके ऊपर है वह आपकी कला है पर जिस रास्ते से अभी तक प्रोडक्ट बेचा जा रहा है उस रास्ते को अपलाइन से ही समझा जा सकता है से प्रोडक्ट की बेचने के लिए जरूरी इंफॉर्मेशन है पत्र करें|

स्पांसर (Sponsor) कहां पर एक से एक दुश्मन बनने की तरफ बढ़ जाता है वह तब होता है जब आप कंपनी के स्टेज के ऊपर अपने बात करने लगते हैं और आपका जो व्यापार है स्पांसर (Sponsor) के व्यापार के समीप जाने लगता है क्योंकि हर मार्केटिंग प्लान (Direct Selling Marketing Plan ) में एक ऐसी स्टेज आ जाती है अपलाइन की इनकम को डाउन लाइन (Down line) की क्या या उसके आसपास पहुंच जाती है तभी से वह कुछ ना कुछ षड्यंत्र रचना शुरू करता है जिससे कि आपका व्यापार गिरे और उसकी आमदनी बनी रहे |

ऐसा ऐसा वह क्यों शुरू करता है क्योंकि हर नेटवर्क मार्केटिंग (network marketing tips) प्लान में अपलाइन को डाउन लाइन के के बीच के डिफरेंस का ही पैसा मिलता है | हर व्यक्ति बिजनेस के अंदर में पैसे के लिए ही आता है जैसे ही डाउन लाइन ऊपर के लेवल को अचीव करने लगते हैं आप लाइन की इनकम आपकी लाइन से गिरने लगती है, ऐसा होना शुरू होते ही अपलाइन के कान खड़े होते हैं और वह आपके व्यापार को गिराने के लिए काम करना शुरू करता है | स्पांसर को एक आपके जैसी बड़ी लाइन क्रिएट या बड़ी लाइन खड़ी करने में कुछ समय लगेगा या हो सकता है कि वह निष्क्रिय हो चुका हो ना खड़ी कर पाए ऐसा ही होता है कि आप लाइन नई लाइन बनाने में अक्षम होते हैं और वह अपनी पुरानी लाइनों को ही तोड़ने के चक्कर में लगे रहते हैं उनका बिजनेस क्या उनकी इनकम बनी रहे वह दुश्मनी पैदा होती है जो कई स्तरों तक जाती है

दुश्मनी का पहला स्तर है अपलाइन का डाउन लाइन के लिए सनी को कैटरीना या उनके बारे में फॉर्मेशन देकर कंपनी की नजरों में व्यक्ति साबित करना जिससे कि कंपनी उसका पेआउट किसी ना किसी बहाने से रोक दें अपनी से टर्मिनेट कर दे ताकि उससे होने वाली सारी आमदनी उसकी हो सके|

कंपनी में टर्मिनेट होने वाले ज्यादातर लोग या जिनका पेमेंट या फिर payout कंपनियां रोक देती हैं प्रमुख कारण उनका ऑफलाइन होता है अपलाइन की शिकायतों के कारण ही कंपनियां इस तरह के एक्शन लेती हैं|

दूसरा षड्यंत्र डाउन लाइंस के नए आने वाले लोगों को तोड़ने की कोशिश करता है आप अपने अपलाइन को आप मीटिंग में लेकर जाते हैं पर बहुत से नए लोगों से होता है और जब अपने मोबाइल नंबर या फोन नंबर एक्सचेंज किए जाते हैं कोई एहसास होता है कि कौन सा व्यक्ति कितने अच्छे लेवल पर काम कर सकता है तो उसको कुछ ऑफर देकर अपने साथ जोड़ने की कोशिश करते हैं जिससे कि डाउन लाइन को नुकसान होता है नेटवर्क में दरार आती है|

अपलाइन कंपनी के इवेंट में करता है कि अपने दीया स्थापित डाउन लाइन की किसी ना किसी तरह बेज्जती करें जिससे कि उसके डाउन लाइंस का मनोबल टूटे वह कंपनी को छोड़कर जाने का मन बनाएं से अपलाइन को बहुत सारे लोग डायरेक्ट इन बोर्ड हो जाते हैं की आमदनी बढ़ती है|

सेमिनार और मीटिंग उसके अंदर आपका अपलाइन नहीं चाहता क्या आप स्टेज पर ज्यादा समय दें इसलिए वह मीटिंग ऑर्गेनाइजर से आप के समय को या नहीं रखता ताकि आपका कद उसके कद से ऊपर ना हो पाए|

दुनिया में सिर्फ पिता ही है जो अपने बच्चों को आगे बढ़ता हुआ देख सकता है और वह ज्यादा खुश होता है,

जबकि नेटवर्क मार्केटिंग में अगर आप अपने डाउन लाइन को अपने नजदीक आते हुए पाता है तो किसी ना किसी उसको रोकने की उसको रोकने की कंपनी छोड़ने पर मजबूर करने की क्रीम करने में लग जाता है इसी वजह से बहुत से लोग नेटवर्क मार्केटिंग को छोड़ कर चले जाते हैं और जो रास्ता उन्होंने चुना था जिंदगी के लिए वह से अचीव नहीं कर पाते हैं और इसका मुख्य कारण है जो गणित अपनाएं जिसने आपको इस सिस्टम के अंदर में स्पांसर (Sponsor किया”

1 COMMENT

  1. har field ki apni khamiya ya kamjori hoti hai eska ye matlab nahi ki woh sector kharab hai. Apne kaam par dhyan dijiye aur baki chijo ko kare IGNORE.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.